मंगलवार, 30 दिसंबर 2008

मैंने पढ़ी किताबें - 2008 में

मैंने पढ़ी किताबें और देखीं फिल्में
यहां मैं 2008 के दौरान पढ़ी गयी उन किताबों की फेहरिस्त दे रहा हूं जो मैंने खरीदीं या किसी न किसी बहाने मुझ तक पहुंचीं। कुछ किताबें पुस्तकालय से ले कर भी पढ़ी होंगी लेकिन उनके नाम अभी याद नहीं आ रहे। ऐसी किताबें भी 25 तो रही ही होंगी। मेरे दोस्ती पूछ सकते हैं कि 366 दिन में इतनी ज्यादा किताबें कैसे पढ़ी जा सकती हैं भला। इसकी दो वजहें रहीं। एक्सीडेंट के कारण चार महीने तक बिस्तर पर रहा और ठीक हो जाने के बाद भी ऑफिस और घर की 4 किमी की दूरी नापने के अलावा कहीं ज्यादा दूर तक नहीं गया। सिर्फ पढ़ता रहा और बेहतरीन फिल्में देखता रहा। कुछ किताबों के नाम याद नहीं आ रहे। ये किताबें दिल्ली में अस्पताल में पढीं थीं। पहले सोचा था कि फिल्मों की तरह इन किताबों को भी अपनी पसंद के हिसाब से एक से पांच तक स्टार दूंगा लेकिन उसमें सारे दोस्तों के नाराज हो जाने का खतरा था, इसलिए सिर्फ नाम दे रहा हूं। मेरे पास अभी भी 50 किताबें तो होंगी जो अभी पढ़ी जानी हैं। उनका जिक्र अगली बार।
देखी गयी कुछ यादगार फिल्मों के नाम भी दे रहा हूं। ज्यादातर‍ फिल्में घर पर देखीं हैं।
1. मोहब्बत का पेड़ प्रिया आनंद कहानी संग्रह
2. अंधेरा समुद्र परितोष चक्रवर्ती कहानी संग्रह
3. अन्या से अनन्या प्रभा खेतान आत्म कथा
4. अपवित्र आख्यान अब्दुल बिस्मिल्लाह उपन्यास
5. आइने सपने और वसंत सेना रवि बुले कहानी संग्रह
6. आखिरी अढाई दिन मीना कुमारी की जीवनी जीवनी
7. इच्छायें कुमार अम्बुंज कहानी संग्रह
8. इस जंगल में दामोदर खडसे कहानी संग्रह
9. उड़ान जितेन ठाकुर उपन्यास
10. उधर के लोग अजय नावरिया उपन्यास
11. उषा वर्मा की कहानियां कारावास कहानी संग्रह
12. उषा राजे सक्सेना की कहानियां कहानी संग्रह
13. ओ इजा शंभु नाथ सती उपन्यास
14. कठपुतलियां मनीषा कुलश्रेष्ठ कहानी संग्रह
15. कागजी़ बुर्ज मीरा कांत कहानी संग्रह
16. कागजी है पैरहन इस्मत चुगताई आत्म कथा
17. काशी का अस्सी काशी नाथ सिंह
18. किस्सा कोहेनूर पंखुरी सिन्हा कहानी संग्रह
19. कुइंया जान नासिरा शर्मा उपन्यास
20. कोई मेरा अपना सुषमा जगमोहन कहानी संग्रह
21. कोहरे में कैद रंग गोविंद मिश्र उपन्यास
22. कौन कुटिल हम जानी प्रेम जनमेजय व्यंग्‍य
23. खारा पानी पाकिस्तानी लेखक उपन्यास
24. गुडि़या भीतर गुडि़या मैत्रेयी पुष्पा आत्म कथा
25. गुलमेंहदी की झाडि़यां तरुण भटनागर कहानी संग्रह
26. गेशे जम्पा नीरजा माधव उपन्यास
27. घर बेघर कमल कुमार कहानी संग्रह
28. चिडि़या फिर नहीं चहकी आलोक मेहता कहानी संग्रह
29. छावनी में बेघर अल्पना मिश्र कहानी संग्रह
30. जंगल का जादू तिल तिल प्रत्यक्षा कहानी संग्रह
31. कहानी संग्रह जया जादवानी कहानी संग्रह
32. जानकी पुल प्रभात रंजन कहानी संग्रह
33. तिनका तिनके पास अनामिका उपन्यास
34. तूती की आवाज ह्रषिकेश सुलभ कहानी संग्रह
35. दस द्वारे का पींजरा अनामिका उपन्यास
36. दावानल नवीन जोशी उपन्यास
37. देवी नगारानी की किताब कविता
38. धुनों की यात्रा पंकज राग अध्ययन
39. धूल पौधों पर गोविंद मिश्र उपन्यास
40. नाम में क्या रखा है हरि भटनागर कहानी संग्रह
41. उपन्यास नीलाक्षी सिंह उपन्यास
42. नूर जहीर बड़ उरैये उपन्यास
43. पंकज मित्र हुडुकलुल्लुा कहानी संग्रह
44. फालतू के लोग राजेन्द्र राजन कहानी संग्रह
45. फूलों का बाड़ा मो आरिफ कहानी संग्रह
46. फ्रिज में औरत मुशर्रफ़ आलम जौकी कहानी संग्रह
47. बहत्त र मील अशोक बटकर (मराठी) उपन्यास
48. बूढ़ा चांद शर्मिला बोहरा जालान कहानी संग्रह
49. बॉस की पार्टी संजय कुंदन कहानी संग्रह
50. ब्रजेश शुक्ला मंडी उपन्यास
51. भया कबीर उदास उषा प्रियंवदा उपन्यास
52. भारतीय कहानियां ज्ञानपीठ कहानी संग्रह
53. भूलना चंदन पांडेय कहानी संग्रह
54. मधु कांकरियां सेज पर संस्कृाति उपन्यास
55. मीना कुमारी की शायरी शायरी
56. मेरे हिस्से का शहर सुधीर विद्यार्थी संस्मरण
57. यत्र तत्र सर्वत्र शरद जोशी
58. ये मेरी गज़लें अहमद फ़राज़ शायरी
59. रघू रेहन पर काशी नाथ सिंह उपन्यास
60. राग विराग संतोष चौबे उपन्यास
61. रेत भगवान दास मोरवाल उपन्यास
62. वह आदमी फ़ज़ल ताबिश उपन्यास
63. वहीं रुक जाते नरेन्द्र नागदेव
64. शराबी की सूक्तियां कृष्ण कल्पित कविता
65. संगम अंजना संधीर
66. सीढि़यां, मां और उसका देवता भगवान दास मोरवाल कहानी संग्रह
67. सूरज नंगा है प्रेम जनमेजय व्यंग्य
68. सोफिया तोलस्तोया की डायरी रचना समय अंक डायरी
69. प्रियदर्शन कहानी संग्रह
70. गोरीनाथ कहानी संग्रह
71. अशोक अग्रवाल यात्रा संस्मरण
72. रूप सिंह चंदेल उपन्यास
73. मनोज रूपड़ा उपन्यास
74. The Devil wears Prada Laure weisberger Novel
75. Istanbul Orhan pamuk Novel
76. Mayada Jean sasson Memoirs
77. Complete works Ruskin Bond Stories and Novels
78. Kite Runner Khalid Hossaine Novel
79. Bertrand Russel’s autobiography Bertrand Russel autobiography
80. Love In The Time Of Cholera Gabriel Garcia Marquez Novel
81. Snow Orhan Pamuk Novel Still reading
82. I Too Had Dream Verghese Kurien autobiography Still reading
83. The Motorcycle Diaries Ernesto “Che” Guevara Still reading
84. Living to tell the tale Gabriel Garcia Marquez reading
85. Long way to freedom Nelson Mandela autobiography Still reading
86. Shanta ram Gregory David Novel

फिल्में जो देखीं – अधिकतर घर पर
1. After the rehearsal Ingmar Bergman
2. Benhur
3. Black diamond
4. Carry on spying
5. Casino royale
6. Come September
7. Confidentially yours
8. डोर
9. GiGi
10. La double vie
11. Le eclisse
12. Lolita
13. North by north west Alfred Hitchcock
14. Old man and the sea
15. On golden pond
16. Persona Ingmar Bergman
17. Phantom of liberty
18. Piano teacher
19. Private ryan
20. Promised land
21. Sweet November
22. The men of honour
23. The outsider
24. To kill a mocking bird
25. Virdiana
26. War and peace
27. Wild strawberries Ingmar Bergman
28. अनाड़ी राजकपूर
29. आग राजकपूर
30. आह राजकपूर
31. खुदा के लिए पाकिस्तानी
32. गॉड तुस्सी ग्रेट हो हिन्दी‍
33. चार्ली चैप्लिन की कई फिल्में
34. चीनी कम हिन्दी
35. चोरी चोरी राजकपूर
36. जागते रहो राजकपूर
37. जिस देश में गंगा बहती है राजकपूर
38. जॉनी गद्दार हिन्दी
39. टिंग्या् मराठी
40. तीसरी कसम राजकपूर
41. द नेमसेक
42. द लास्टै लायर हिन्दी
43. धरम हिन्दी
44. फैशन हिन्दी
45. बरसात राजकपूर
46. बाजी देव आनंद
47. ब्लैआक एंड व्हा्इट हिन्दी
48. भागम भाग
49. भेजा फ्राई
50. मनोरमा 6 फुट नीचे
51. मेरे बाप पहले आप
52. राम चंद पा‍किस्तानी
53. रॉक ऑन
54. वेडनेसडे
55. शराबी देव आनंद
56. प्रतिमा बांग्ला
57. वारिस शाह पंजाबी
58. खामोशी हिन्दी

14 टिप्‍पणियां:

Gyan Dutt Pandey ने कहा…

और मै‍ यह कहूं कि यह सूचियां देख आपसे ईर्ष्या भी है और जबरद्स्त प्रभावित भी हूं तो कोई अतिशयोक्ति नहीं है।
मैं अपने में कुछ "सूर्य प्रकाश" लेने का यत्न करूं!

सुशील कुमार छौक्कर ने कहा…

लगता है आप खूबसूरत जिदंगी जी रहे हैं। वैसे काशी का अस्सी तो हमने भी पढी है।

हिमांशु ने कहा…

फ़िल्मों की इतनी लम्बी लिस्ट, और वह भी बहुआयामी.
जानता नहीं था आप इतनी रुचि से फ़िल्में भी देखते हैं.
इस सूची से आप की रुचि का पता चला. धन्यवाद.

DUSHYANT ने कहा…

bbap re baap ..kya aadmee hai ye..itna dekh aur padh letaa hai..zaroor alian hai galtee se hamare samay men hamare beech hai..par hamaaree khushkismatee hai ye ki ham unke samay men hain...

Raviratlami ने कहा…

बहुत सी किताबें पढ़ ली आपने!

विनय ने कहा…

नये साल के लिए बधाइयाँ स्वीकारें|

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

ऐसे में सिर्फ ईर्ष्या कर सकता हूँ आप से। जरा बरनॉल तलाश कर लूं।

उन्मुक्त ने कहा…

इन पुस्तकों और फल्मों की समीक्षा क्यों नहीं लिखते।

ब्रजेश ने कहा…

आपसे जलन हो रही है। लेकिन किताबों और फिलमों की सूची देकर अचछा किया अगर ये भी लिखते कि किन किताबों और फिलमों ने परभावित किया तो किताबों और पाठकों का थोड़ा और भला होता। वैसे बलाग पर किताबों की सूची देकर आपने एक नई परंपरा चलाई है। बेहतर है। नया साल मुबारक हो।

बेनामी ने कहा…

aap iss list ke jariye kya batana chahate haiN? aapko khud ko itna expose nahin karna chahiye. padhana swant sukhay ke liye hota hai. doosroN ko kya lena-dena? Sr. writers ko shobha nahin deta aur ye guman nahin hona chahiye ki ek saal mein itna padha. aapke paas suvidha aur time hai, isliye padha.
naye saal ki shubh kamnaayaein.

अनूप शुक्ल ने कहा…

वाह। उन्मुक्तजी की बात काबिलेगौर है। आपको नया साल मुबारक!

बेनामी ने कहा…

kitab ki list dene ka matlab samajh nahin aaya.ye nizi hobby hai aur isese sab impress ho jaaeyiN zarooree nahin hai.

कथाकार ने कहा…

ये सूची पसंद करने के लिए आभार. लोग बाग तो इस बात से ही नाराज हो रहे हैं कि मैं ये सूची देकर क्‍या कहना चाहता हूं और कि लेखक ‍या किसी का भी पढ़ना लिखना व्‍यक्तिगत मामला है और कि मैं घमंडी हूं. और सूची दिखा कर क्‍या बताना चाहता हूं और न जाने क्‍या. ऐसे पत्र मौडरेट ही किये जाते हैं. मैं बहस न चला कर ये कहना चाहता हूं कि सभी पत्रिकाएं और अखबार हर जनवरी में चर्चित किताबों की सूची प्रकाशित करते हैं और कई अखबार और पत्रिकाएं लेखकों से पूछती हैं कि क्‍या पढ़ा इस बरस. अगर मैंने अपने पाठकों से ये सूची शेयर कर दी और इसमें दिखावा नहीं विनम्र आग्रह है कि मैं ये पढ़ पाया या देख पाया. और ये भी कि मैं किताबों पर जजमेंट दे कर और दुश्‍मन नहीं बनाना चाहता. अलग से आप चाहें तो कुछ किताबें और फिल्‍में रिकमंड कर सकता हूं.
बाकी पसंद अपनी अपनी और . ..

सूरज

बेनामी ने कहा…

bilkul theek kaha kathaakar ne.blog creative writing ke liye hai naki list dikhane ke liye.